Breaking News

गाँधी जयन्ती की पूर्व संध्या पर सी.एम.एस. द्वारा शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों का भव्य आयोजन

लखनऊ, 1 अक्टूबर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल के तत्वावधान में ‘‘गाँधी जयन्ती एवं अन्तर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस  की पूर्व संध्या पर आज सी.एम.एस. गोमती नगर ऑडिटोरियम में आयोजित भव्य रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों द्वारा सी.एम.एस. शिक्षकों ने राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के सपनों को साकार करने का अभूतपूर्व उत्साह जगाया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि श्री प्रवीण कुमार, एडीटर, टाइम्स ऑफ इण्डिया द्वारा दीप प्रज्वलन एवं राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के चित्र पर माल्यार्पण से हुआ। इस अवसर पर अपने संबोधन में श्री प्रवीण कुमार ने कहा कि गाँधी जी के विचारों की प्रासंगिकता इस बात से ही सिद्ध हो जाती है कि भारत सरकार के दो महत्वपूर्ण प्रोग्राम ‘मेक इन इण्डिया’ व ‘स्वच्छ भारत’ गाँधी जी के दर्शन व विचारधारा से ही प्रेरित हैं। उन्होंने आगे कहा कि हम सभी अपने जीवन में सफल होकर अपने व अपने परिवार के लिए बहुत कुछ करते हैं परन्तु गाँधी जी ने हमें सिखाया कि हमें समाजहित व मानवता के विकास में भी हरसंभव योगदान करना है। सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने इस अवसर पर कहा कि महात्मा गाँधी के आदर्शो पर चलकर ही विश्व एकता की मंजिल मिलेगी। महात्मा गाँधी ने कहा था कि विश्व की समस्याओं को सुलझाने के लिए विश्व एकता व विश्व शान्ति ही एकमात्र समाधान है।

कार्यक्रम का शुभारम्भ ‘वंदे मातरम एवं स्कूल प्रार्थना’ की सुमधुर प्रस्तुतियों से हुआ।  बापू के भजनों ‘रघुपति राघव राजाराम’ एवं ‘वैष्णव जन तो तेने कहिए की भावपूर्ण प्रस्तुतियों से सम्पूर्ण ऑडिटोरियम तालियों की गड़गड़ाहट से गूँज उठा। ‘गाँधी जयन्ती एवं अन्तर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस’ की पूर्व संध्या पर दुग्ध धवल सफेद खादी वस्त्रों में ‘अहिंसा मार्च’ निकालकर महात्मा गाँधी के विचारों को आत्मसात करने एवं उनके सपनों को साकार करने का संदेश दिया।  इस विशाम मार्च में सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी व डा. (श्रीमती) भारती गाँधी, सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन, विभिन्न कैम्पस की प्रधानाचार्याओं समेत कई प्रख्यात हस्तियों ने शामिल होकर ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ का अलख जगाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.