Breaking News

समाचारों से समाज को दें पॉजिटिव एनर्जी : बीके शिवानी

ब्रह्माकुमारीज द्वारा आयोजित चार दिवसीय राष्ट्रीय मीडिया सम्मेलन का शुभारंभ

आबू रोड/राजस्थान : ब्रह्माकुमारीज के मीडिया विंग द्वारा राजस्थान के माउंट आबू में आयोजित चार दिवसीय राष्ट्रीय मीडिया सम्मेलन का शुभारंभ करते हुए अंतरराष्ट्रीय मोटिवेशनल स्पीकर बीके शिवानी ने कहा कि पत्रकारों का यह कर्तव्य है कि वे अपने शब्दों और वाणी से समाज को पॉजिटिव एनर्जी प्रदान करें। उन्होंने कहा कि भारत के पास ही वह विधि है, जिससे स्वर्णिम दुनिया बनाई जा सकती है। वो विधि है हमारे संस्कार, जिससे समृद्ध भारत का सपना साकार होगा। इस अवसर पर राजस्थान विधानसभा के उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी, भारतीय जन संचार संस्थान, नई दिल्ली के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी एवं मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी भी उपस्थित रहे। ‘दया एवं करुणा के लिए आध्यात्मिक सशक्तिकरण’ थीम के तहत ‘समाधानपरक पत्रकारिता से समृद्ध भारत की ओर’ विषय पर सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। सम्मेलन में 1500 से अधिक मीडियाकर्मी हिस्सा ले रहे हैं।

बीके शिवानी ने कहा समाज को बदलने से पहले खुद में परिवर्तन करना आवश्यक है। यदि हमें सारा दिन प्रसन्नता के साथ काम करना है, तो रोज सुबह आधा घंटा अपनी आत्मा रूपी बैटरी को चार्ज करना जरूरी है। अगर हम सभी अपने जीवन की समस्याओं का समाधान निकालने लगेंगे, तो एक दिन सभी समस्याएं खत्म हो जाएंगी। उन्होंने कहा कि यह बहुत बड़ा चिंतन का विषय है कि मीडिया की दशा और दिशा क्या होनी चाहिए और आज हम क्या हो रहा है। पत्रकारों को इस बात पर ध्यान देने की जरुरत है कि क्या हम अपने धर्म और कर्म का अनुसरण कर रहे हैं या फिर अपनी दिशा से भटक गए हैं।

फेक न्यूज रोकने के लिए मीडिया लिटरेसी की जरुरत : प्रो. द्विवेदी

सम्मेलन को संबोधित करते हुए भारतीय जन संचार संस्थान, नई दिल्ली के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी ने कहा कि आज 99 फीसदी खबरें सोशल मीडिया से आ रही हैं। सभी के सामने यह संकट है कि किस खबर को सही मानें और किसे नहीं। पहले हर खबर समाज तक एक प्रोसेस के तहत पहुंचती थी, लेकिन आज वक्त बदल गया है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर जो लिखा जा रहा है और सूचना दी जा रही है, उसे भी मुख्यधारा के पत्रकारों का काम समझा जा रहा है, जबकि दोनों अलग हैं। समाचार वह है जो आपको प्रोसेस करके दिया जा रहा है, जबकि सूचना कोई भी दे सकता है। इसी वजह से आज मीडिया लिटरेसी की जरुरत है।

मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए सिरोही के प्रभारी मंत्री और राजस्थान विधानसभा के उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी ने कहा कि पत्रकारों की समाज में बड़ी भूमिका है। दुनिया की कोई भी समस्या हो, उसका समाधान जरूर होता है। मीडिया से आज अपेक्षा है कि समाज की जटिल समस्याओं के समाधान के लिए पहल करें। उन्होंने कहा कि एक पत्रकार समाज का जिम्मेदार नागरिक होता है। मीडिया के साथी समस्याओं के साथ उनका उचित समाधान भी समाज के सामने पेश करें।शुभारंभ सत्र में कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, रायपुर के पूर्व कुलपति मानसिंह परमार, संस्थान के अतिरिक्त महासचिव बीके बृजमोहन, मल्टीमीडिया निदेशक बीके करुणा, जूरिस्ट विंग की उपाध्यक्ष बीके पुष्पा एवं टीवी एक्टर गुंजर उतरेजा ने भी अपने विचार व्यक्त किए। सत्र का संचालन जयपुर जोनल को-ऑर्डिनेटर बीके चंद्रकला ने किया।