Breaking News

सुंदर पार्क बनेगा कुतुब मीनार से भी ऊंचे ट्विन टावर की जगह, तीन महीने में होगी हरियाली

नई दिल्ली ; नोएडा के सेक्टर-93ए स्थित दोनों अवैध टावर के जमींदोज हो जाने के बाद अब इस जगह पर हरियाली लहलहाएगी। नोएडा प्राधिकरण इस जगह को अपने मूल स्वरूप में वापस लाने का कार्य करेगा। यहां से मलबे को हटाने के बाद पार्क विकसित किया जाएगा। इस कार्य में करीब तीन माह का समय लगेगा।

बता दें कि दिल्ली स्थित कुतुब मीनार से भी ऊंची ट्विन टावर से करीब 60 हजार टन मलबा निकला है। ट्विन टावरों की ऊंचाई 102 मीटर के करीब थी, जबकि दिल्ली का कुतुब मीनार सिर्फ 72.4 मीटर ही ऊंचा है। ट्विन टावर में करीब चार हजार टन सरिया है। मलबे को तोड़कर इस सरिया को निकाला जाएगा। दोनों बेसमेंट को भरने में करीब 25 हजार टन मलबे का प्रयोग किया जाएगा। इसके बाद बचे करीब 35 हजार टन मलबे को नोएडा प्राधिकरण के सेक्टर-80 स्थित सीएंडडी वेस्ट प्लांट में भेजा जाएगा। इस प्लांट की क्षमता करीब 300 मीट्रिक टन प्रतिदिन की है। यहां इस मलबे से ब्रिक्स व टाइल्स बनाई जाएंगी।

डबल बेसमेंट को मलबे से भरने के बाद बचे हुए मलबे को हटाने के बाद इस जगह को समतल किया जाएगा। इसके बाद ऊपर से मिट्टी की करीब तीन मीटर मोटी मिट्टी की परत बिछाकर इस जगह को समतल किया जाएगा।

मिट्टी की इस परत पर घास लगाने के साथ यहां चारदीवारी के लिए झाड़ीनुमा पौधे लगाए जाएंगे। इसके बाद पार्क में पौधे लगाए जाएंगे। इनमें फल, फूल और छायादार वृक्ष प्रजाति के पौधों को शामिल किया जाएगा। जिससे लोगों को एक बेहतर पार्क के रूप में यह जगह प्रयोग करने के लिए मिल सके। गौरतलब है कि करीब ढ़ाई एकड़ में बने नोएडा के ट्विन टावर के स्थान पर करीब एक दशक पहले पार्क हुआ करता था। पार्क की जगह गगनचुंबी इमारतें बनाई गई थी। अब नोएडा प्राधिकरण इस स्थान को वापस अपने मूल स्वरूप देने की तैयारी कर रहा है।