Breaking News

CJI यू.यू ललित ताबड़तोड़ एक्शन में, पहले ही दिन 900 याचिकाओं हुईं सूचीबद्ध

नई दिल्ली. आज यानी सोमवार को अदालत में अपने पहले दिन सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के मुख्य न्यायाधीश यूयू ललित(U.U Lalit) ने 900 से अधिक याचिकाओं को सूचीबद्ध करके अपनी तरफ से एक प्रभावशाली प्रदर्शन निर्धारित किया है और एक बड़ा सन्देश दिया है। वहीं इन सूचीबद्ध याचिकाओं में कर्नाटक हिजाब विवाद, केरल के पत्रकार सिद्दीकी कप्पन की जमानत, गौतम नवलखा समेत कई बड़े और अहम मामले शामिल हैं।

पता हो कि, जस्टिस यू.यू ललित का CJI के तौर पर आज सोमवार को पहला कार्य दिवस है। बता दें कि, उन्होंने बीते शनिवार को देश के 49वें चीफ जस्टिस के तौर पर शपथ ली थी, लेकिन शनिवार और रविवार को न्यायालय में कामकाज नहीं होता है। वहीं शीर्ष अदालत की वेबसाइट पर अपलोड की गई वाद सूची के अनुसार, अदालत कक्ष संख्या एक में सोमवार को CJI ललित की अध्यक्षता वाली पीठ में न्यायमूर्ति एस रवींद्र भट पीठ भी शामिल होंगे।

बता दें कि, रोस्टर के रूप में CJI ने 15 बेंच में प्रत्येक को लगभग 60 मामले सौंपे हैं यानी कि कुल 900 मामले की सुनवाई होनी है। वहीं इन याचिकाओं से निपटने के लिए अब सुबह 10.30 बजे से शाम 4 बजे तक अधिकतम 270 मिनट का आधिकारिक कार्यशील समय मिलेगा। जिसके मामने साफ़ है कि, यानी औसतन एक मामले को निपटाने में अब 4 मिनट से थोड़ा अधिक समय मिलेगा, जिसके दौरान याचिकाकर्ता के वकील को न्यायाधीशों को यह समझाना होता है कि उन्हें याचिका पर विचार क्यों करना चाहिए, विपरीत पक्ष से जवाब मांगना चाहिए और अंतरिम राहत भी देनी चाहिए। वहीं जस्टिस एम.आर शाह की अगुवाई वाली बेंच को सबसे ज्यादा 65 याचिकाएं सौंपी गई हैं।