Breaking News

आज जंतर-मंतर पर किसान महापंचायत, पुलिस की अनुमति नहीं, सीमाओं पर लगाए गए बैरिकेड्स

नई दिल्ली: संयुक्त किसान मोर्चा (Sanyukt Kisan Morcha) ने एमएसपी सहित कई मुद्दों पर केंद्र के विरोध में जंतर-मंतर (Jantar Mantar) पर महापंचायत (Mahapanchayat) करने का ऐलान किया है। लेकिन, दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने किसानों को महापंचायत की अनुमति नहीं दी है। ऐसे में अब दिल्ली पुलिस ने कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की है। वहीं महापंचायत में शामिल होने के लिए पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, बिहार सहित दूसरे राज्यों के किसान दिल्ली पहुंचने लगे हैं।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि किसानों के इकट्ठा होने से ट्रैफिक जाम हो सकता है और अप्रिय घटनाएं हो सकती हैं। इसलिए दिल्ली पुलिस ने किसानों को राजधानी में प्रवेश करने से रोकने के लिए शहर के सभी बॉर्डरों पर बैरिकेड लगा दिए हैं। पुलिस सुबह से ही सभी बॉर्डरों पर मुस्तैद दिखाई दे रही है। दिल्ली के अलावा नई दिल्ली के बॉर्डर को रविवार रात से ही सील कर दिया गया था।

किसानों (Farmers) को और उनके ट्रैक्टर-ट्रॉली और ट्रकों को नई दिल्ली में एंट्री नहीं करने दिया जाएगा। नई दिल्ली के सभी बॉर्डरों पर बेरीकेड्स लगा दिए गए हैं। पूरी दिल्ली पुलिस को अलर्ट पर रहने के लिए कहा गया है। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस (Delhi Traffic Police) के नोटिफिकेशन के अनुसार, आज शहर में महापंचायत के लिए लगभग चार से पांच हजार किसानों के इकठ्ठा होने की आशंका है। जिसका सीधा असर शहर के ट्रैफिक पर पड़ेगा। इस बात को ध्यान में रखते हुए देखते हुए ट्रैफिक पुलिस ने जनता के लिए एडवाइजरी जारी की है। इसके साथ ही डायवर्जन का प्लान भी तैयार किया है।

ट्रैफिक पुलिस की जानकारी के अनुसार, टॉलस्टॉय मार्ग, संसद मार्ग, जनपथ, विंडसर प्लेस, कनॉट प्लेस, अशोक रोड, बाबा खड़क सिंह मार्ग, पंडित पंत मार्ग समेत आस-पास के कई रास्तों पर दिनभर जाम रहने की संभावना है। मालूम हो कि, रविवार को दिल्ली पुलिस ने किसान नेता राकेश टिकैत को गाजियाबाद बॉर्डर से हिरासत में ले लिया था। इसके बाद टिकैत को मधु विहार थाने ले जाया गया। जिसके बाद से ही थाने के बाहर राकेश टिकैत के समर्थकों की भीड़ बढ़ने लगी। इसके बाद पुलिस ने उनको वापस दिल्ली-गाजीपुर बॉर्डर पर छोड़ दिया।