Breaking News

छात्रों का सर्वांगीण विकास ही हमारा उद्देश्य : डा. जगदीश गांधी

सी.एम.एस. राजाजीपुरम ‘तृतीय कैम्पस’ का हुआ भव्य उद्घाटन

लखनऊ : सिटी मोन्टेसरी स्कूल के संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गांधी ने शनिवार को फीता काटकर नव-निर्मित सी.एम.एस. राजाजीपुरम ‘तृतीय कैम्पस’ का उद्घाटन किया। इस अवसर पर सी.एम.एस. राजाजीपुरम कैम्पस की वरिष्ठ प्रधानाचार्या निशा पाण्डेय एवं सी.एम.एस. राजाजीपुरम ‘तृतीय कैम्पस’ की प्रधानाचार्या कोमल वलेचा समेत बड़ी संख्या में शिक्षक, अभिभावक व गणमान्य लोग उपस्थित थे। इस अवसर पर बड़ी संख्या में उपस्थित अभिभावकों ने साफ-सुथरे व आधुनिकतम सुविधाओं से युक्त नव-निर्मित स्कूल परिसर भूरि-भूरि प्रशंसा की और छात्रों को उद्देश्यपूर्ण व संतुलित शिक्षा प्रदान करने के सी.एम.एस. के प्रयासों को सराहा। इस नवनिर्मित भवन के उद्घाटन अवसर पर सम्पूर्ण विद्यालय परिसर को बहुत ही सुन्दर ढंग से सजाया-संवारा गया।

इस अवसर पर बोलते हुए सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि सी.एम.एस. छात्रों के सर्वांगीण विकास एवं शिक्षा को एक नया आयाम देने के लिए पूरी तरह संकल्पित है और इन्हीं प्रयासों के तहत इस नये कैम्पस का शुभारम्भ हुआ है। हमारा प्रयास है कि आज के छात्र न सिर्फ किताबी ज्ञान में दक्ष हों अपितु उनमें नैतिक व आध्यात्मिक मूल्यों का समावेश भी हो। डा. गाँधी ने कहा कि सी.एम.एस. का यह नया कैम्पस विद्यालय के अभिभावकों व लखनऊ के प्रबुद्ध नागरिकों के प्रोत्साहन का प्रतिफल है। इस अवसर पर सी.एम.एस. संस्थापिका-निदेशिका डा. भारती गाँधी, सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट व एम.डी., प्रो. गीता गाँधी किंगडन व सी.एम.एस. के चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफीसर रोशन गाँधी ने गरिमापूर्ण उपस्थिति दर्ज कराई। इससे पहले, स्कूल प्रार्थना एवं स्वागत गान के सुमधुर प्रस्तुतिकरण से सी.एम.एस. राजाजीपुरम (तृतीय कैम्पस) के उद्घाटन समारोह का विधिवत् शुभारम्भ हुआ।

विद्यालय के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी हरि ओम शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. का यह नव-निर्मित कैम्पस मुख्यतः प्री-प्राईमरी व प्राइमरी के नन्हें-मुन्हें छात्रों के सर्वांगीण विकास की दृष्टि से निर्मित किया गया है तथापि छात्रों को आधुनिक तरीके से गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने हेतु अनेकों सुविधाएं प्रदान की गई हैं जिनमें हवादार क्लासरूम, नन्हें-मुन्हें बच्चों के लिए प्ले एरिया, प्रत्येक कक्षा में इण्टरएक्टिव व्हाइट बोर्ड, अभिभावकों व आगन्तुकों हेतु सुसज्जित लॉबी आदि प्रमुख हैं। श्री शर्मा ने बताया कि सर्वाधिक छात्र संख्या के आधार पर सी.एम.एस. का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज है तथापि छात्रों को सर्वोत्कृष्ट शिक्षा प्रदान करने के साथ ही जीवन मूल्यों व चारित्रिक गुणों के विकास हेतु सी.एम.एस. को यूनेस्को शांति शिक्षा पुरस्कार के साथ ही विभिन्न सम्मानों से अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर नवाजा जा चुका है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *