Breaking News

आईएचएफ महिला जूनियर हैंडबॉल वर्ल्ड चैंपियनशिप में भारत का बेहतरीन प्रदर्शन

बिना किसी कैंप के चैंपियनशिप में खेली भारतीय जूनियर महिला हैंडबॉल टीम

नई दिल्ली : भारतीय जूनियर महिला हैंडबॉल टीम ने स्लोवानिया में 22 जून से 3 जुलाई तक आयोजित आईएचएफ महिला जूनियर हैंडबॉल वर्ल्ड चैंपियनशिप में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए अपने दो मैच जीते। पहली बार इस चैंपियनशिप में खेल रही भारतीय टीम ने अपने पहले मैच में ईरान को 32-31 से हराया। फिर दूसरे मैच में चिली को 32-29 से हराया। इन दोनों ही मैचों में भारत की भावना शर्मा सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुनी गयी। हालांकि भारतीय टीम की यह सफलता इसलिए काबिलेतारीफ है क्योंकि इन खिलाड़ियों ने बिना किसी उपयुक्त सुविधा वाले शिविर में अभ्यास के बिना इस चैंपियनशिप में हिस्सा लिया था। इसके चलते भारतीय खिलाड़ियों ने क्ले कोर्ट पर अभ्यास के बाद टूर्नामेंट में हिस्सा लिया था। फिर भी अपनी योग्यता के आधार पर भारतीय लड़कियों ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए दुनिया की दो सर्वश्रेष्ठ टीमों के खिलाफ दो मैच जीते। वहीं भारत की भावना वर्तमान में टूर्नामेंट में दूसरी सर्वश्रेष्ठ स्कोरर है।

भारतीय ओलंपिक संघ के कोषाध्यक्ष व हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के कार्यकारी निदेशक डा.आनन्देश्वर पाण्डेय ने कहा कि वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई करने के बावजूद भी भारतीय जूनियर महिला हैंडबॉल टीम को कैंप की सुविधा नहीं मिली। अगर भारतीय टीम को अगर राष्ट्रीय शिविर की सुविधा मिली होती तो टीम का प्रदर्शन काफी बेहतर होता। डा.आनन्देश्वर पाण्डेय ने आगे कहा कि कौन उस प्रतिभा को निखारेगा जिसके खेल की दुनिया में योगदान से खेल की लोकप्रियता बढ़ाने में सहायता मिली। हमारे अधिकांश एथलीट और मैं विशेष रूप से हैंडबॉल के बारे में बात करता हूं जो भारत के गरीब इलाकों से आते हैं। कौन सुनिश्चित करेगा कि इन एथलीटों को सही पोषण, सही बुनियादी ढांचा और सही एक्सपोजर मिले?”

हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया (एचएफआई) के महासचिव तेजराज सिंह ने कहा कि भारतीय महिला जूनियर टीम ने मार्च 2022 में अल्माटी में हुई एशियाई महिला जूनियर हैंडबॉल चैंपियनशिप में ऐतिहासिक स्वर्ण पदक जीतकर आईएचएफ अंडर-20 महिला जूनियर हैंडबॉल वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई किया था। हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष ए.जगनमोहन राव ने कहा कि यह दोनों ही बाते भारतीय महिला हैंडबॉल के इतिहास में पहली बार हुई थी जिसने हमारे देश में हैंडबॉल को वैश्विक स्तर प्रदान किया था। उन्होंने ये भी जानकारी दी कि भारतीय महिला यूथ अंडर-18 हैंडबॉल टीम ने आईएचएफ यूथ वर्ल्ड चैंपियनशिप-2022 के लिए भी क्वालीफाई कर लिया है जो 30 जुलाई से 10 अगस्त, 2022 तक उत्तरी मैसिडोनिया में आयोजित की जाएगी।

दूसरी ओर भारतीय महिला जूनियर हैंडबॉल टीम ने आईएचएफ अंडर-20 महिला जूनियर हैंडबॉल वर्ल्ड चैंपियनशिप जैसी उच्चस्तरीय व शानदार प्रतियोगिता में टीम की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए डा. आनन्देश्वर पाण्डेय (कार्यकारी निदेशक, एचएफआई), जगन मोहन राव (अध्यक्ष- एचएफआई) और डॉ तेजराज सिंह (महासचिव- एचएफआई) को धन्यवाद दिया। टीम में शामिल खिलाड़ियों ने विश्वास जताया कि इंडोर हॉल, हैंडबॉल टर्फ, अंतरराष्ट्रीय मानक के अनुसार गेंदों और उचित डायट चार्ट की मौजूदगी के साथ भारतीय टीम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक में जगह बना सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *