अश्विनी वैष्णव ने भारत-बांग्लादेश ‘मिताली एक्सप्रेस’ को दिखाई हरी झंडी

नई दिल्ली : रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव और बांग्लादेश के रेलमंत्री मोहम्मद नूरुल इस्लाम सुजान ने बुधवार को न्यू जलपाईगुड़ी-ढाका छावनी ‘मिताली एक्सप्रेस’ को रेल भवन से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह ट्रेन भारत और बांग्लादेश के बीच तीसरी यात्री ट्रेन सेवा है। मिताली एक्सप्रेस नए रूट पर हल्दीबाड़ी-चिलाहाटी पर चलेगी। भारत विभाजन के बाद दोनों देशों के बीच बहाल होने वाला यह पांचवां रेल लिंक है। रेलगाड़ी संख्या 13132 न्यू जलपाईगुड़ी-ढाका छावनी एक्सप्रेस सप्ताह में दो दिन यानी बुधवार और रविवार चलेगी।

वापसी यात्रा के लिए रेलगाड़ी संख्या 13131 ढाका छावनी-न्यू जलपाईगुड़ी मिताली एक्सप्रेस प्रत्येक सोमवार व गुरुवार को चलेगी। ट्रेन पश्चिम बंगाल में न्यू जलपाईगुड़ी और बांग्लादेश में ढाका छावनी के बीच लगभग 595 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। भारत और बांग्लादेश के बीच दोनों देशों के संबंधों को मजूबत करने में यह ट्रेन अहम भूमिका निभा सकती है। दो साल पहले कोरोना के मद्देनजर मार्च 2020 में कोलकाता-बांग्लादेश के बीच रेल सेवाओं को स्थगित कर दिया गया था। मौजूदा समय में कोरोना के मामलों में कमी के बाद अब फिर से ट्रेन सेवा को बहाल किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Captcha loading...