Breaking News

अखिलेश यादव का बचपना जगजाहिर : नन्दी

झांसी : औद्योगिक विकास, निर्यात प्रोत्साहन, एनआरआई निवेश प्रोत्साहन मंत्री नंदगोपाल नंदी ने सोमवार को अखिलेश यादव पर जमकर हमला और कहा कि अखिलेश यादव का बचपना जगजाहिर है। वह 2017 में चुनाव हारने के बाद पांच साल तक ट्वीटर व फेसबुक पर खेलते-खेलते बिता दिए। कटाक्ष करते हुए कहा कि एक साधारण व्यक्ति भी किराए के मकान को छोड़ते समय अपने द्वारा लगाई गई टोंटी नहीं निकालता, लेकिन अखिलेश जी की मानसिकता स्पष्ट है। वह झांसी के सर्किट हाउस में स्कूल से लेकर गेहूं विक्रय केन्द्र तक का औचक निरीक्षण करने के बाद पत्रकारों से रूबरू थे।

उन्होंने पत्रकारों को टोकते हुए कहा आप अखिलेश यादव की क्यों बार-बार बात करते हैं। अखिलेश यादव कब क्या बोलेंगे, उनका कोई भरोसा नहीं है। उनका बचपना जगजाहिर है। उनकी बचकानी हरकतें अक्सर देखने को मिलती रहती है। जो व्यक्ति वोट की लालच में जिन्ना को अपना आदर्श बता डाले, उसके बारे में क्या बात करेंगे। आजकल फेसबुक और ट्विटर पर एक फोटो चल रही है, जिसमें टोटी और पंप साथ-साथ देखे जा रहे हैं। आप अंदाजा लगा सकते हैं कि एक किराएदार भी किसी किराए के मकान को खाली करते समय अपने द्वारा लगाई गई टोटी को इसलिए नहीं निकालता है कि उसकी चूड़ी खराब हो जाएगी या वह टूट जाएगी। वहीं उत्तर प्रदेश के मुखिया रहने के बावजूद अखिलेश यादव अपने द्वारा लगाई गई टोंटी तक निकाल कर ले जाते हैं। इससे उनकी मानसिकता स्पष्ट होती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *