Breaking News

पति ही निकला विवाहिता का कातिल, वैचारिक मतभेद के चलते गला घोटकर कर दी हत्या

चंदौली : वैचारिक मतभेद व अनबन होने के कारण पत्नी छाया की गला घोट कर हत्या कर दी। घटना को आत्महत्या करार देने के लिए शव को उसके दुपट्टे के सहारे को फंदे पर लटका दिया। यह राजफांस हेतिमपुर गांव निवासी विवाहिता छाया की हत्या आरोपित पति लक्ष्मीकांत उर्फ लक्ष्मी ने शुक्रवार को कोतवाली में मीडिया के समक्ष की। हेतिमपुर निवासिनी तीन बच्चों की मां छाया देवी 26 वर्ष का शव 20 अगस्त को उसके घर के एक खंडहरनुमा कमरे में दुपट्टे के सहारे लटकता हुआ मिला था।

मृतक के पति समेत परिवार के सदस्य घटना को आत्महत्या का रूप देने में लगे रहे। वही सोनहुल गांव निवासी मृतका के पिता सूरज ने पुलिस को तहरीर देते हुए पुत्री छाया की हत्या कर दिए जाने का आरोप पति, सास सहित तीन लोगों पर लगाया था। पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई में जुट गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट व तफ्तीश में विवाहिता छाया की मौत आत्महत्या के बदले हत्या की ओर स्पष्ट रूप से इंगित करने लगा। इस बीच पति समेत परिवार के अन्य सदस्य फरार हो गए। पुलिस का संदेह और पुख्ता हो गया इसके बाद मामले की रहस्‍य से पर्दा उठा।

कोतवाल राजेश यादव ने मुखबिर की सूचना पर हेतिमपुर चौराहे से विवाहिता छाया के पति लक्ष्मी कांत को गिरफ्तार कर लिया। कड़ाई से पूछताछ करने पर बताया कि पत्नी से उसके संबंध अच्छे नहीं थे। वैचारिक मतभेद होने के चलते आए दिन झगड़ा विवाद होता था। 19 अगस्त की रात मौका पाकर तकिया से नाक, मुंह बंद कर गला घोट कर हत्या कर दिया। घटना को आत्महत्या करार देने के लिए उसके शव को दुपट्टे के सारे लकड़ी की बल्ली(गोला) से लटका दिया। घटना की तफ्तीश व गिरफ्तारी में रामपुर चौकी प्रभारी गिरीश चंद्र राय, कांस्टेबल अजय राय ,सरोज कुमार ने अहम भूमिका निभाई।