Breaking News

2025 तक भारत में 1.8 लाख किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग बनाएगा

नई दिल्ली : अगले कुछ सालों में भारत का विकास तेज गति से होगा, यह हम नहीं बल्कि बैंक ऑफ अमरीका सिक्योरिटीज इंडिया की रिपोर्ट में अनुमान लगाते हुए बताया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 1950 से 2015 के बीच भारत में केवल 4 हजार किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण किया गया, जिसके कारण 2015 में कुल लंबाई 77 हजार किलोमीटर हो गई। 2025 तक भारत 1.8 लाख किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग बनाएगा, जो पिछले 10 सालों में 133% की जबरदस्त वृद्धि होगी।

इसके अलावा भारत में 1950 केवल 10 हजार किलोमीटर की रेल लाइन थी, जो 2015 में बढ़कर 63 हजार किलोमीटर पहुंच गई। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2025 में इसके 1.2 लाख किलोमीटर को छूने की उम्मीद है, जो रेलवे लाइन की लंबाई में लगभग 90% की वृद्धि होगी।

स्वच्छता, रसोई गैस कवरेज, बिजली की पहुंच, नल जल कवरेज सहित इन योजनाओं का किया गया जिक्र

बैंक ऑफ अमरीका सिक्योरिटीज इंडिया ने अपनी रिपोर्ट में स्वच्छता, रसोई गैस कवरेज, बिजली की पहुंच, नल जल कवरेज, पाइप्ड गैस कनेक्शन सहित अन्य योजनाओं का जिक्र करते हुए उनमें हुए विकास के बारे में बताया गया है, जो इस प्रकार हैं –

– 2021 तक देश में 89% आबादी तक स्वच्छता पहुंच गई है, जो 2015 में 43% थी।
– 2015 तक भारत में रसोई गैस कवरेज 56% थी, जो 2021 तक 100% हो गई है।
– देश में 96% घरों में बिजली पहुंच गई है, जो साल 2000 में 56% थी।
– 2015 में देश में नल जल कवरेज 13% थी, जो अब 52% पहुंच गई है। 2024 तक 100% कवरेज पहुंचने की संभावना है।
– 2015 में देश में पाइप्ड गैस कनेक्शन 2.5 मिलियन थी, जो अब 10 मिलियन की ओर बढ़ रही है।
– किफायती ग्रामीण आवास 2015 में 10 लाख थे, जो अब बढ़कर 25 मिलियन पहुंच गए हैं।

पर्यावरण के लिए 385 बिलियन अमरीकी डालर खर्च करेगा भारत

बैंक ऑफ अमरीका सिक्योरिटीज इंडिया ने रिपोर्ट में बताया है कि भारत 2030 तक पर्यावरण के लिए 385 बिलियन अमरीकी डालर खर्च करेगा, जिसके जरिए डी-कार्बोनाइजेशन लक्ष्यों को पूरा किया जाएगा। इसके साथ ही रिपोर्ट में बताया गया है कि 2015 में पेरिस समझौते के तहत विश्व स्तर पर डी-कार्बोनाइजेशन करना है, जिस दिशा में भारत बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है।