Breaking News

जम्मू-कश्मीर: नौशेरा में घुसपैठ की कोशिश नाकाम, सेना ने 2 घुसपैठियों को मार गिराया

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों के घुसपैठ की कोशिशें आए दिन होती रहती हैं. लेकिन सेना के जवानों की मुस्तैदी के कारण वे विफल हो जाती हैं. इसी बीच सर्चिंग अभियान के दौरान हाल के समय में कई आतंकवादियों को मौत के घाट उतार दिया गया है. ताजा मामला राजौर इलाके का है. जम्मू और कश्मीर में राजौरी के नौशेरा सेक्टर में एलओसी के पास 22-23 अगस्त की दरमियानी रात को आतंकी घुसपैठ करने की प्रयास कर रहे थे वही अलर्ट भारतीय सेना के जवानों ने इन आतंकियों के मोमेंट देखी तो उसके बाद उन पर फायर करते हुए दो घुसपैठिए को वहीं पर ढेर कर दिया.

इस तरह पाकिस्तान की घुसपैठ वाली साजिश को भारतीय सेना ने लाइन ऑफ कंट्रोल पर विफल किया और इलाके में इस वक्त सर्च ऑपरेशन चल रहा है. इससे पहले रविवार के दिन भारतीय सेना ने ही नौशेरा सेक्टर में घुसपैठिए को गोली मारी थी. घुसपैठिए की पहचान पाकिस्तानी आतंकी तबारक हुसैन के रूप में हुई थी, लेकिन आज एक बार फिर घुसपैठ के प्रयास पाकिस्तानी आतंकियों ने की है, जिसको वक्त रहते भारतीय सेना ने विफल किया है. भारतीय सेना के अधिकारियों ने बताया कि 22 /23 की दरमियानी रात को भारतीय सेना की तरफ से राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में घुसपैठ की साजिश को विफल बनाया गया. दो घुसपैठिए को ढेर किया गया. इलाके में इस वक्त सर्च ऑपरेशन चल रहा है.

रविवार को पकड़ा गया लश्कर का गाइड
रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने जानकारी दी कि संदिग्ध आतंकवादियों के एक समूह ने सीमा पार से अंधेरे की आड़ में नौशेरा के लाम के पुखरनी गांव में घुसने की कोशिश की. सोमवार रात करीब 10 बजे एक आतंकवादी ने बारूदी सुरंग पर पैर रख दिया, जिससे विस्फोट हो गया. आतंकवादियों की गतिविधियों पर नजर रख रहे सेना के जवानों ने इलाके को घेर लिया और मंगलवार सुबह तलाश अभियान शुरू किया. नौशेरा सेक्टर में घुसपैठ की यह कोशिश ऐसे समय पर की गई है, जब सेना ने लश्कर-ए-तैयबा के एक गाइड को रविवार को घायल हालत में गिरफ्तार कर लिया था. यह व्यक्ति पाकिस्तानी सेना की खुफिया इकाई के लिए भी काम करता था. पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के सब्जकोट गांव के निवासी तबारक हुसैन (32) को नियंत्रण रेखा पार करने की कोशिश करते समय गिरफ्तार किया गया था. उसे छह वर्ष में दूसरी बार गिरफ्तार किया गया है.