‘उद्धव ठाकरे के साथ हूं’ ED की 9 घंटे की पूछताछ के बाद बोलीं वर्षा राउत

मुंबई: महाराष्ट्र के चर्चित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शिवसेना नेता संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत शनिवार को मुंबई में प्रवर्तन निदेशालय के समक्ष पेश हुईं। प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा से नौ घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की। पूछताछ खत्म होने के बाद वर्षा राउत ने कहा कि वे और उनके पति उद्धव ठाकरे के साथ हैं और उनका समर्थन करना जारी रखेंगे।

दरअसल, प्रवर्तन निदेशालय ने वर्षा राउत से पात्रा चॉल के पुनर्विकास और संबंधित लेनदेन में कथित अनियमितताओं से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ की है। केंद्रीय एजेंसी मुंबई के गोरेगांव इलाके में स्थित पात्रा चॉल के पुनर्विकास से संबंधित 1,034 करोड़ रुपये के कथित भूमि घोटाले से जुड़ी जांच कर रही है। एजेंसी ने इसी मामले में संजय राउत को गिरफ्तार किया है।

पूछताछ के बाद ईडी दफ्तर से बाहर निकलीं वर्षा राउत ने मीडिया से बातचीत की और कहा कि वे उद्धव ठाकरे के साथ ही है। ईडी ने जितने सवाल मुझसे किए हैं मैंने सबके जवाब दिए हैं। वर्षा राउत ने यह भी कहा कि उन्हें ईडी के अधिकारियों ने फिर से नहीं बुलाया है, अगर फिर से बुलाया जाता है, तो वह एजेंसी के साथ सहयोग करेंगी। बता दें कि ईडी ने इसी हफ्ते की शुरुआत में वर्षा राउत को समन जारी किया था। उन्हें शनिवार को ईडी दफ्तर बुलाया गया था। वर्षा राउत सुबह 10 बजकर 40 मिनट पर दक्षिण मुंबई के बलार्ड एस्टेट स्थित ईडी ऑफिस पहुंची थीं।

जानकारी के मुताबिक अब तक की जांच में मिले सबूत और संजय राउत से पूछताछ में मिली जानकारी के आधार पर वर्षा राउत से पूछताछ हुई। बताया जा रहा है कि एजेंसी ने दादर फ्लैट और अलीबाग के प्लाट के डील के बारे में एजेंसी ने वर्षा राउत से सवाल किए। एजेंसी को शक है कि घोटाले के पैसे से अलीबाग में प्लॉट खरीदा गया है। फिलहाल एजेंसी वर्षा राऊत से 1 करोड़ से अधिक पैसों का हिसाब चाहती है।