पति को लगा समुद्र में डूबी पत्नी, फिर प्रेमी के साथ मिली; ऐसे बर्बाद हुए सरकार के 1 करोड़ रुपये

विशाखापट्टनम : विशाखापट्टनम के आरके बीच से लापता हुई महिला नेल्लोर में मिल गई। वह समुद्र तट से वहां कैसे पहुंची, यह जानने के लिए कि पहले यह जानना होगा कि आखिर हुआ क्या था। साईप्रिया और श्रीनिवास सोमवार को अपनी शादी की सालगिराह मनाने के लिए विशाखा आरके बीच पर पहुंचे थे। समुद्र तट पर कुछ समय बिताने के बाद उन्होंने शाम 7.30 बजे वापस जाने का फैसला किया।

पति को पैर धोने के लिए कह कर साईप्रिया बीच पर चली गई। वहीं, पति श्रीनिवास फोन में व्यस्त हो गए। कुछ देर बाद जब उन्होंने पीछे मुड़कर देखा तो उनकी पत्नी कहीं नहीं मिली। उन्होंने तुरंत पुलिस को इसकी सूचना दी। चारों ओर खोजा गया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। आपको बता दें कि गायब होने की यह घटना चंद सेकेंड के भीतर हुई। श्रीनिवास को लगा कि उनकी पत्नी समुद्र में खो गई है।

इसके बाद साईप्रिया के लिए तलाशी अभियान शुरू कर दिया गया। अंधेरा होने के बाद अगले दिन भी तलाशी अभियान चलाया गया। लेकिन वह कहीं नहीं मिली। तलाशी अभियान में हेलीकॉप्टर तक को उतारा गया। आशंका जताई गई साईप्रिया समुद्र में बह गई।

इस मामले में एक चौंकाने वाला मोड़ आया। पता चला कि साईप्रिया अपने प्रेमी के साथ नेल्लोर भाग गई थी। पुलिस ने उसे एक युवक के साथ पाया। श्रीनिवास और साई प्रिया के कथित तौर पर पिछले कुछ समय से खराब संबंध थे। श्रीनिवास भी यह सोचकर चौंक गए कि उनकी पत्नी तो समुद्र में बह गई थी। विशाखापत्तनम के उप महापौर ने बताया कि सरकार ने साईप्रिया की खोज के लिए लगभग 1 करोड़ रुपये की एक बड़ी राशि खर्च की है। उन्होंने कहा कि वे अब महिला को नेल्लोर से विजाग वापस लाने के प्रयास कर रहे हैं।