Breaking News

रूस-यूक्रेन युद्ध: पोलैंड के राष्ट्रपति बोले- पुतिन की शर्तें मानना जरूरी नहीं

कीव/दावोस/मॉस्को:यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने सभी रूसी बैंकों पर प्रतिबंध, रूसी तेल के आयात पर रोक और रूस से सभी तरह का व्यापार रोकने समेत रूस पर अधिकतम प्रतिबंध लगाए जाने की अपील की है। विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की वार्षिक बैठक 2022 को वीडियो लिंक से संबोधित करते हुए जेलेंस्की ने कहा कि यह ऐसा क्षण है जब यह निर्णय लिया जाएगा कि क्या एक ‘बर्बर ताकत’ विश्व को शासित करेगी।

रूस-यूक्रेन युद्ध के 89वें दिन रूस ने दोनबास समेत पूर्वी यूक्रेन पर हमले बढ़ा दिए हैं। उसने दोनबास क्षेत्र में अपना विस्तार करने के लिए तोप और मिसाइल हमले बढ़ा दिए हैं। इस बीच, यूक्रेन ने रूसी युद्ध को देखते हुए मॉर्शल लॉ को तीन माह और बढ़ाकर 23 अगस्त तक कर दिया है। इस बीच, पोलैंड के राष्ट्रपति ने कीव पहुंचकर यूरोपीय संघ (ईयू) में उसके शामिल होने की इच्छा का समर्थन किया।

अजोवस्तल स्टील संयंत्र समेत पूरे मैरियूपोल पर पूर्ण नियंत्रण के बाद रूस ने दोनबास क्षेत्र में सोमवार तड़के बड़ी कार्रवाई की है। उसने लुहांस्क प्रांत में यूक्रेनी नियंत्रण वाले मुख्य शहर सेवेरोदोनेस्क पर कब्जे की कोशिशें बढ़ाते हुए इसके बाहरी गांव ओलेक्सांद्रिवका पर हमला किया। लुहांस्कर के गवर्नर सेरेही हैदाई ने हमले को असफल बताया है।

इस बीच, पोलैंड के राष्ट्रपति एंद्रजेज डूडा ने यूक्रेन की संसद में बोलते हुए कहा कि जंग खत्म करने के लिए रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की शर्तें मानने की जरूरत नहीं है। यूरोप में हाल ही में इस तरह की आवाजें उठने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उधर, यूक्रेनी संसद ने देश में तीन माह तक मार्शल लॉ बढ़ाने संबंधी की डिक्री के पक्ष में मतदान किया जिस पर राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने दस्तखत कर दिए हैं।

यूक्रेनी सांसदों की रूस पर और सख्त पाबंदियों की अपील
यूक्रेन में जारी युद्ध के विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की वार्षिक बैठक में चर्चा का मुख्य विषय होने के बीच, यूक्रेनी महिला सांसदों के एक समूह ने रूस पर और कड़े प्रतिबंध लगाने की अपील की। उन्होंने कहा, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की ‘तानाशाही’ के खिलाफ युद्ध जीतना लक्ष्य होना चाहिए।

पांच सांसदों के एक समूह ने कहा कि यूद्ध जीतने का अर्थ होगा- क्रीमिया को वापस लेना, जिस पर रूस ने कुछ वर्ष पूर्व कब्जा किया था। सांसदों ने कहा, युद्ध जीतने के लिए यूक्रेन की मदद करना पश्चिम के लिए जरूरी है, ताकि रूस भविष्य में दुनिया के किसी अन्य हिस्से में युद्ध नहीं छेड़ पाए।

युद्ध अपराध में रूसी सैनिक को आजीवन कारावास
यूक्रेन की एक अदालत ने रूस के एक सैनिक को युद्ध अपराध में निहत्थे यूक्रेनी बुजुर्ग की हत्या में आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। 21 वर्षीय टैंक कमांडर वादिम शिशिमारिन ने 28 फरवरी को उत्तर-पूर्वी यूक्रेनी गांव चुपखिवका में 62 वर्षीय ऑलेक्जेंडर शेलीपोव को मारा था। जज सेरही अगाफोनोव ने कहा, शिशिमारिन ने आपराधिक आदेश का पालन करते हुए पीड़ित के सिर पर एक स्वचालित हथियार से कई गोलियां चलाई थीं।

जेलेंस्की की अपील, रूस पर अधिकतम प्रतिबंध लगाएं
यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने सभी रूसी बैंकों पर प्रतिबंध, रूसी तेल के आयात पर रोक और रूस से सभी तरह का व्यापार रोकने समेत रूस पर अधिकतम प्रतिबंध लगाए जाने की अपील की है। विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की वार्षिक बैठक 2022 को वीडियो लिंक से संबोधित करते हुए जेलेंस्की ने कहा कि यह ऐसा क्षण है जब यह निर्णय लिया जाएगा कि क्या एक ‘बर्बर ताकत’ विश्व को शासित करेगी।

यूक्रेन ने अनाथ बच्चों के गोद लेने की प्रक्रिया रोकी
रूस के सैनिकों द्वारा जारी बर्बादी को देखते हुए यूक्रेन ने अपने देश के बच्चों को वैश्विक स्तर पर गोद लेने की पूरी प्रक्रिया पर रोक लगा दी है। इसका सबसे बुरा असर यह हुआ कि रूस-यूक्रेन जंग शुरू होने के बाद अमेरिकी परिवार 300 बच्चों को गोद लेने वाले थे लेकिन अब वे ऐसा नहीं कर सकेंगे। यूक्रेनी नेशनल काउंसिल फॉर अडॉप्शन के अध्यक्ष और मुख्य अधिकारी रेयान हैनलन ने इसकी पुष्टि की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *