Breaking News

प्रधानमंत्री दौरे से पहले मुख्य सचिव व डीजीपी ने लिया तैयारियों का जायजा

चार महीने बाद 7 जुलाई को अपने संसदीय क्षेत्र के प्रवास पर आ रहे पीएम मोदी
18 सौ करोड़ की तीन दर्जन से ज्यादा परियोजनाओं की सौगात देंगे काशीवासियों को

-सुरेश गांधी

वाराणसी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 7 जुलाई के आगमन से पहले रविवार को मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र और डीजीपी देवेंद्र सिंह चौहान ने तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान दोनों आला अधिकारी एक साथ सड़क मार्ग से करखियावं औद्योगिक क्षेत्र पहुंचे और अमूल प्लांट का निरीक्षण किया। शाहंशाहपुर के कृषि एवं पशुधन क्षेत्र में भ्रमण किया। इसके बाद अर्दली बाजार स्थित एलटी कॉलेज परिसर पहुंचे और अक्षयपात्र किचन का जायजा लिया। परियोजनाओं की जमीनी स्थिति जानने और एलटी कॉलेज के निरीक्षण के बाद मुख्य सचिव और डीजीपी सर्किट हाउस पहुंचे। डीएम, मंडलायुक्त, नगर आयुक्त व अन्य सभी अफसरों संग तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की। नमो घाट पर निरीक्षण के बाद दोनों अधिकारी नाव पर बैठकर विश्वनाथ धाम पहुंचे। धाम में सुरक्षा व्यवस्था का निरीक्षण किया। अधिकारियों ने सावन महीने के लिए होने वाली तैयारियों का भी जायजा लिया। सर्किट हाउस में अधिकारियों संग बैठक कर पीएम के कार्यक्रम की तैयारी, सावन मेला, सुरक्षा व्यवस्था, केबल कार निर्माण की समीक्षा की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र और डीजीपी देवेंद्र सिंह चौहान के आगमन से पहले एयरपोर्ट पर मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल और डीएम कौशल राज शर्मा सहित पुलिस के प्रशासनिक अधिकारी एयरपोर्ट पहुंच गए थे। इस दौरान एयरपोर्ट पर डीआईजी संतोष कुमार सिंह, पीएसी कमांडेंट डॉ अनिल कुमार, एसपी ग्रामीण सूर्यकांत त्रिपाठी, एसडीएम पिंडरा पुष्पेंद्र पटेल, सीओ पिंडरा अभिषेक पांडेय सहित जिले के प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे।

मिनट टू मिनट मोदी कार्यक्रम
अब तक के तय कार्यक्रम के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सात जुलाई को दोपहर में करीब दो बजे वाराणसी पहुंचेंगे और शाम सवा छह बजे रवाना हो जाएंगे। इस दौरान पीएम मोदी करीब 1800 करोड़ रुपये की 45 परियोजनाओं की सौगात काशीवासियों को देंगे। पीएम 1220 करोड़ रुपये की 13 परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे और 591 करोड़ रुपये की 32 परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे। बाबतपुर एयरपोर्ट से प्रधानमंत्री हेलीकॉप्टर से पुलिस लाइन पहुंचेंगे और यहां से सड़क मार्ग से अर्दली बाजार स्थित एलटी कॉलेज परिसर में अक्षयपात्र किचन का उद्घाटन करेंगे। वे सड़क मार्ग से ही सिगरा स्थित रुद्राक्ष कंवेंशन सेंटर आएंगे और नई शिक्षा नीति पर आयोजित देशभर के शिक्षाविदों के सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे। इसके बाद पीएम मोदी सिगरा स्थित संपूर्णानंद स्पोर्ट्स स्टेडियम में जनसभा को संबोधित करेेंगे। यहां पर पीएम काशी में पूरी हो चुकी परियोजनाओं का लोकार्पण और शुरू होने वाली परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे। इसके बाद वे काशी विश्वनाथ मंदिर और कालभैरव मंदिर भी जाएंगे।

बच्चों की हाजिर जवाबी से हुए खुश, 1100 रुपये का इनाम दिया
चोलापुर के प्राथमिक विद्यालय चंद्रावती के कक्षा चार की छात्रा पलक ने संस्कृत में अपना परिचय देने के साथ मुख्य सचिव को संस्कृत भाषा में महिषासुर मर्दनी विषय पर आधारित कविता सुनाई। वहीं कंपोजिट विद्यालय अनंतपुर की कक्षा आठ की छात्रा तमन्ना से जब मुख्य सचिव ने सवाल पूछे तो उसने प्रश्नों का बेबाकी से जवाब दिया। एक अन्य छात्र ने धाराप्रवाह कई देशों की राजधानी का नाम बताया। बच्चों की हाजिर जवाबी से खुश होकर मुख्य सचिव व डीजीपी ने बच्चों को 1100 रुपये इनाम में दिए। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राकेश सिंह ने कहा कि वाराणसी दौरे पर आ रहे प्रधानमंत्री अगर बेसिक शिक्षा परिषद के बच्चों संग संवाद करेंगे तो यह गर्व की बात होगी।

मुख्य सचिव ने गायों को खिलाया गुड़
मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा व पुलिस महानिदेशक देवेंद्र सिंह चौहान रविवार को शाहंशाहपुर स्थित राजकीय कृषि एवं पशुधन प्रक्षेत्र पहुंचे। गौ शाला और प्रक्षेत्र को देखा। गौशाला में संरक्षित की गई गंगातीरी गायों को अपने हाथों से गुड़ भी खिलाया। उन्होंने देसी नस्ल की प्रजाति गंगातीरी गाय से संबंधित जानकारी भी प्रक्षेत्र अधीक्षक से ली। कृषि प्रक्षेत्र में बोई जाने वाली फसलों के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। इसके बाद वे पास में ही स्थित गोवर्धन प्लांट भी गए और वहां लगाये गये संयंत्र से बायो गैस उत्पादन की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने वहां पौधरोपण भी किया।

राष्ट्रीय सम्मेलन में भाग लेंगे पीएम मोदी
नई शिक्षा नीति पर आयोजित राष्ट्रीय शिक्षा सम्मेलन का उद्घाटन देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। इस सम्मलेन के संयोजक यूजीसी ने प्रतिभाग के लिये इस संस्था के 35 अध्यापकों एवं 15 प्रबुद्ध शोधार्थियों को भी आमंत्रित किया है। कुलपति प्रो. हरेराम त्रिपाठी ने बताया कि सात जुलाई को कुलपतियों, निदेशकों एवं विद्यार्थियों के साथ विचार विमर्श के लिये एक सम्मेलन आयोजित किया गया है। इसका उद्घाटन देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। इस सम्मलेन के संयोजक यूजीसी ने प्रतिभाग के लिये इस संस्था के 35 अध्यापकों एवं 15 प्रबुद्ध शोधार्थियों को भी आमंत्रित किया है।

सिगरा स्टेडियम में पीएम मोदी की जनसभा
स्पोर्ट्स स्टेडियम सिगरा में पीएम जनसभा को संबोधित करेंगे। इस दौरान पीएम 1220 करोड़ रुपये की 13 परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे और 591 करोड़ रुपये की 32 परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे। इसके अलावा पीएम कुछ लोगों से मुलाकात भी करेंगे। सिगरा स्टेडियम के अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुविधाओं के शिलान्यास के दौरान पीएम मोदी के कार्यक्रम में खेल से जुड़ी कई हस्तियां भी शामिल होंगी। इस दौरान पीएम देशभर के खिलाड़ियों के लिए बड़ी घोषणा भी कर सकते हैं। पीएम के कार्यक्रम में आमंत्रित करने के लिए खिलाड़ियों की सूची तैयार की जा रही है।

काशी विश्वनाथ मंदिर में विधिवत दर्शन पूजन
मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्र ने डीजीपी देवेंद्र सिंह चौहान के साथ श्री काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर कार्यालय में अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान आगामी श्रावण मास के दौरान दर्शनार्थियों एवं श्रद्धालुओं को बेहतर से बेहतर सुविधा मुहैया कराए जाने के साथ ही मुकम्मल एवं चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कराए जाने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि श्रावण मास के दौरान श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में भारी संख्या में श्रद्धालु बाबा का दर्शन करने आते हैं। ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाए, जिससे दर्शनार्थियों को किसी प्रकार की असुविधा किसी भी दशा में न होने पाए। उन्होंने कहा कि काशी विश्वनाथ धाम एक नव्य और भव्य रुप में निखर कर सामने आया है। बड़ी संख्या में गंगा के रास्ते से भी श्रद्धालु विश्वनाथ धाम में दर्शन को पहुंच रहे हैं। इसके लिए गंगा मार्ग पर विशेष सुरक्षा की व्यवस्था हेतु निर्देशित किया। निरीक्षण के पश्चात दोनों उच्चाधिकारियों ने श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में जाकर बाबा का विधि विधान से पूजन अर्चन किया। पूजन अर्चन करने के पश्चात दोनों अधिकारियों ने प्रदेशवासियों की कल्याण की कामना की। मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने बताया कि जून माह में एवरेज प्रतिदिन एक लाख श्रद्धालु मंदिर में दर्शन पूजन कर रहे हैं इसमें शनिवार रविवार सोमवार सवा लाख से डेढ़ लाख की संख्या रह रही है बाकी अन्य दिनों में 80 से 90-95 हजार श्रद्धालुओं की संख्या होती है। वही जुलाई के 2 दिनों में यह संख्या प्रतिदिन के हिसाब से एक से सवा लाख हो गई है। इस हिसाब से अगर देखा जाए तो सावन में सोमवार के दिन श्रद्धालुओं की संख्या 6 लाख के पार होने की संभावना है।

गंगा पार रेती पर बनेगी टेंट सिटी
गंगा पार रेती पर बनने वाले टेंट सिटी के संबंध में कमिश्नर ने बताया कि पर्यटको का आवक अन्य जगहों पर भले घटा हो, लेकिन काशी में पर्यटको का आवक बढ़ा है। टेंट सिटी पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बनेगा। उन्होंने बताया कि यह टेंट सिटी अक्टूबर से फरवरी तक रहेगी। मुख्य सचिव ने प्रयागराज के कुंभ को दुनिया का सबसे बड़ा टेंट सिटी बताते हुए कहां कि जिलाधिकारी इलाहाबाद के साथ इस संबंध में बैठक कर इसके संबंध में जानकारी एवं जरूरत पड़ने वाले अनापत्ति प्रमाण पत्रों आदि के संबंध में जानकारी प्राप्त कर लिया जाए। मुख्य सचिव ने टेंट सिटी को फरवरी की जगह मई तक क्रियाशील रखे जाने पर विशेष जोर दिया। उन्होंने कहा कि सामान्यतः वर्षा ऋतु 15 जून के बाद से शुरू होता है, इसलिए इसे फरवरी की जगह मई तक क्रियाशील रखा जा सकता है। मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्र कैण्ट से गोदौलिया तक बनने वाले रोप-वे के निर्माण कार्य को 14 जुलाई के आसपास भूमि पूजन कर शीघ्र शुरू कराए जाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि काशी पर्यटकों एवं श्रद्धालुओं का शहर है। रोप-वे कार्य यहां के लिए महत्वाकांक्षी योजना है। इसे शीघ्र शुरू कराकर निर्धारित समय सीमा में पूर्ण कराया जाए। इसके गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दीजिए जाने की जरूरत पर जोर दिया। कमिश्नरी कार्यालय परिसर स्थित भूखंड पर 346.27 करोड़ की लागत से शिव के डमरू आकार का बनने वाले मंडलीय कार्यालय भवन परियोजना का प्रेजेंटेशन देते हुए कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया कि निर्माण कार्य पूरी तरह पीपीपी पैटर्न पर होगा। इस भवन के दो टावर होंगे। एक टावर कार्यदायी संस्था को 30 वर्षों के लीज पर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके लिए दो-तीन बार टेंडर हो चुके हैं, लेकिन अब तक कोई भी कार्यदायी संस्था इसके लिए आगे नहीं आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *