Breaking News

‘रन फॉर योग’ में दौड़े सीएम धामी, दिया स्वस्थ रहने का संदेश

देहरादून : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में सोमवार को आयोजित ‘रन फॉर योग’ का उद्घाटन कर खुद भी दौड़े। उन्होंने सभी लोगों को दिनचर्या में योग एवं व्यायाम को शामिल करने का अनुरोध करते हुए संकल्प दिलाया। ‘रन फॉर योग’ का आयोजन आयुर्वेदिक एवं यूनानी विभाग (आयुष विभाग) ने घंटाघर से दर्शनलाल चौक, दून हास्पिटल एवं एमकेपी इंटर कालेज तक किया गया।इस मौके पर मुख्यमंत्री धामी ने प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के प्रयासों से ही आज पूरे विश्व में 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। सभ लोग अपनी दिनचर्या में योग एवं व्यायाम को शामिल करें। योग जीवन पद्धति है। इससे शरीर स्वस्थ रहता है। योग केवल कार्यक्रम की औपचारिकता न रहे बल्कि इसे अपने जीवन में नियमित रूप से आत्मसात करें।

मुख्यमंत्री ने सभी को संकल्प दिलाया कि अपने जीवन में प्रतिदिन एक घंटा योग एवं व्यायाम के लिए निकालें। उन्होंने कहा कि छात्र/छात्राओं का इस कार्यक्रम में उत्साह देखकर अच्छा लगा। बचपन को याद करते हुए धामी ने कहा कि जब कभी राष्ट्रीय पर्व एवं प्रभातफेरी में प्रतिभाग करना होता था तो हम भी बहुत उत्साहित रहते थे जल्द ही मंजिल तक पहुंचने की ललक बनी रहती थी। इसके लिए कतार में लगकर उत्साह पूर्वक प्रतिभाग किया करते थे। उन्होंने कहा कि सरकार देहरादून को क्लीन सिटी, ग्रीन सिटी एवं ड्रीम सिटी बनाने की कार्ययोजना पर कार्य कर रही है। हमारा प्रयास दून शहर को हिंदुस्तान के आदर्श शहरों में शामिल करना है। राज्य को इकोलॉजी व इकोनामी के साथ समन्वय बनाते हुए आगे बढ़ना है तथा राज्य को 2025 तक आत्मनिर्भर बनाना है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देहरादून से दिल्ली को जोड़ने वाली एलिवेटेड कॉरिडोर का निर्माण प्रगति पर है। यह जल्द ही तैयार हो जाएगा। इससे देहरादून से दिल्ली तक का सफर 2 घंटे में तय किया जा सकेगा। भविष्य में हमारे राज्य एवं जनपद देहरादून में अधिक पर्यटकों की आने की संभावना है। इसके लिए हमें पूर्व में ही संसाधनों एवं व्यवस्थाओं में सुधार लाना होगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में विभिन्न क्षेत्रों में प्रगति एवं विकास हुआ है। वर्ष 2013 की केदारनाथ आपदा के बाद केदारबाबा का प्रांगण पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो गया था जो अब नया एवं भव्य बनाया गया है। बद्रीनाथ में भी नव निर्माण के लिए कार्य योजना तैयार की गई है।

‘रन फॉर योग’ में एनएसएस, एनसीसी, स्काउट गाइड, उत्तरांचल आयुर्वेदिक कॉलेज, शिवालिक आयुर्वेदिक कॉलेज व आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं सहित जनपद के विभिन्न विभागों के कार्मिकों सहित लगभग 800 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया गया। इस अवसर पर विधायक खजानदास, विनोद चमोली, मेयर सुनील उनियाल गामा, पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार, सचिव आयुष पंकज पांडे, निदेशक आयुर्वेद ए. के. त्रिपाठी, अपर जिलाधिकारी एसके बरनवाल, के. के. मिश्रा, जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डाॅ. मिथिलेश सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों ने प्रतिभाग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *