Breaking News

अग्निपथ योजना की पूरी दुनिया में तारीफ, विपक्ष कर रहा गुमराह : योगी

अखिलेश यादव के लिए आजमगढ़ नहीं, परिवार का विकास मायने रखता

आजमगढ़। लोकसभा उपचुनाव की सरगर्मी अब पूरे शवाब पर पहुंच गई है। नेता व अभिनेता के बीच छिड़ी जुबानी जंग के बीच मुख्यमंत्री योगी ने रविवार को पार्टी प्रत्याशी दिनेश लाल यादव’निरहुआ’ के समर्थन में दो सभाएं की। इस दौरान वे सपा और बसपा पर जमकर हमला बोला। सीएम योगी ने कहा कि अग्निपथ योजना की पूरी दुनिया में तारीफ हो रही है, लेकिन विपक्ष(सपा-बसपा-कांग्रेस) युवाओं को गुमराह करने में लगा है। उनका जीवन बर्बाद करने की कोशिश हो रही है। सरकार ने इस योजना से जुड़े कई महत्वपूर्ण फैसले लिए हैं। अग्निवीरों को सेना में आरक्षण दिया जाएगा। इसके अलावा राज्य सरकारों ने भी पुलिस व अन्य सेवाओं में प्राथमिकता देने का फैसला किया है। उन्होंने सपा पर आजमगढ़ के सामने पहचान का संकट खड़ा करने और विकास से दूर रखने का भी आरोप लगाया। मुख्यमंत्री योगी ने दलित नेता सुशील आनंद का टिकट काटने पर भी चुटकी ली और कहा कि युवा नेता के साथ धोखा किया गया और उसका टिकट काटकर सैफई खानदान को दे दिया गया। यहीं नहीं इस दौरान उन्होंने बसपा प्रत्याशी जमाली के बहाने मुस्लिम मतदाताओं के दुखती रग पर हाथ रखने की कोशिश की।

सीएम ने की अपील, आजमगढ़ को आतंक का गढ़ मत बनने दीजिए

बिलरियागंज के बघैला खेल के मैदान में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजमगढ़ को आतंक का गढ़ मत बनने दीजिए। आपने सपा-बसपा को मौके दिये, लेकिन उन्होंने आपके सामने पहचान का संकट खड़ा करने का काम किया। इन्होंने विकास के बजाय जनता को गुमराह करने का काम किया। आजमगढ़ के विकास के लिए अगर किसी ने पूरी ईमानदारी से काम किया वह बीजेपी है। सपा ने इस चुनाव में भी नौजवान का अपमान किया। पहले युवा दलित नेता को टिकट दिया, फिर उससे टिकट वापस लेकर सैफई खानदान में ही दे दिया। यहीं नहीं बसपा के जो प्रत्याशी हैं वे भी विधानसभा चुनाव में अखिलेश के पास गए थे। उन्हें भी धोखा मिला। वादा कर टिकट नहीं दिया और उन्हें बेरोजगार बना दिया। सपा की प्रवृत्ति ही धोखा देने वाली है।

सपा के एजेंडे में गांव और गरीब नहीं

सपा के एजेंडे में गांव और गरीब नहीं है। इनका एजेंडा अपराध और अपराधियों तक सीमित है। इनके राज में जब भर्ती निकलती थी तो पूरा सैफई खानदान वसूली के निकल जाता था। आज हमारी सरकार में 1.73 करोड़ लोगों को रोजगार दिया गया है। वह भी बिना किसी भेदभाव के। उन्होंने कहा कि हाथी का पेट तो इतना बड़ा है कि वह गरीबों के खाद्यान के साथ रोजगार भी खा जाती थी। मुख्यमंत्री योगी ने आजम खान पर तंज कसते हुए कहा कि एक नेता कल आए थे जो रोना रो रहे थे लेकिन याद रखिये जो गरीबों की संपत्ति पर कब्जा करेगा, उसपर रियायत नहीं होगी। जो नौजवानों के भविष्य से खेलेगा, जो बहू बेटियों की इज्जत से खेलेगा उसके साथ रियायत नहीं बरती जाएगी, चाहे वह कोई भी हो। जरूरत पड़ने पर बुलडोजर भी चलता रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *