Breaking News

बनारस में बनेगा सीजीएसटी दफ्तर : पंकज चौधरी

कहा, जीएसटी की दिक्कतें एक माह दूर होंगी, केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री ने वाराणसी व्यापार मंडल के अध्यक्ष अजीत सिंह बग्गा सहित उद्यमियों संग किया संवाद

-सुरेश गांधी

वाराणसी : केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने गुरुवार को सर्किट हाउस में उद्यमियों, व्यापारियों, टैक्स सलाहकारों के साथ संवाद किया। इस दौरान उन्होंने वाराणसी व्यापार मंडल के अध्यक्ष अजीत सिंह बग्गा सहित कई अन्य व्यापारियों की समस्याएं सुनीं और उनके निराकरण का आश्वासन दिया। खासकर जीएसटी भुगतान में आ रही समस्या और सुझावों पर चर्चा की। व्यापारियों की मांग पर मंत्री ने आश्वासन दिया कि वाराणसी में जल्द ही अलग सीजीएसटी (केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर) कार्यालय का निर्माण कराया जाएगा। पंकज चौधरी ने कहा कि जीएसटी से संबंधित शिकायतों और समस्याओं का एक माह में समाधान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मैं समस्याओं के समाधान का वचन देता हूं। यदि एक माह में समाधान नहीं होता है तो उद्यमी-व्यापारी मुझसे संपर्क कर सकते हैं। केंद्र सरकार उद्योग व्यापार को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार ने हमेशा सुझावों का स्वागत किया है और जीएसटी काउंसिल की बैठक में संशोधन भी कराया गया है। उन्होंने कहा कि पीएम सबका साथ सबका विकास के तहत काम कर रहे हैं। आज लोगों की सोच बदल रही है।

व्यापारियों की समस्याओं को देखते हुए एक देश एक टैक्स का निर्धारण किया गया है। इससे व्यापार बढ़ा है और उद्यमियों- व्यापारियों को भी सहूलियत मिली है। बताया कि व्यापारियों को जीएसटी को लेकर तमाम तरह की विसंगतियां सामने आ रही हैं। इसलिए हम अलग-अलग जगह जाकर व्यापारियों के साथ बैठक कर यह जान रहे हैं कि उनको किस तरह की समस्याएं आ रही हैं। उनके सुझावों के आधार पर हम समस्याओं का समाधान करेंगे। अब तक 46 बैठक हो चुकी है। गलतफहमी और गलत जानकारी को दूर करने के लिए जोन स्तर पर बैठक की जा रही है। इस मौके पर व्वाराणसी व्यापार मंडल के अध्यक्ष अजीत सिंह बग्गा ने व्यापारियों की ओर अपनी मांगों से मंत्री को अवगत कराया और सुझाव भी दिए।

अर्थव्यवस्था में तेजी से हो रहा सुधार

इसके पूर्व पत्रकारों से बात करते हुए पंकज चौधरी ने कहा कि सरकार व्यापारियों- उद्यमियों के हित में काम कर रही है। उन्होंने कहा कि भारत दुनिया की सबसे तेज गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था में से एक है। हाल कि दिनों में हमारी अर्थव्यवस्था में तेजी से सुधार हुआ है और कोविड से पहले की स्थिति में हम पहुंच गए हैं। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि बढ़ती महंगाई कहीं न कहीं कुछ फेज तक ही है। कुछ दिन पहले ही प्रधानमंत्री ने दो बार पेट्रोल और डीजल के दाम घटाया। जो हमारी आयात होने वाली चीजें हैं उन पर कस्टम ड्यूटी हटाई। जो चीजें ज्यादा बाहर जाती हैं उसके निर्यात पर भी रोक लगाई। ऐसे तमाम प्रयास किए जा रहे हैं ताकि आमजन को महंगाई से जल्द से जल्द निजात मिल सके। इससे पहले केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी पांडेयपुर स्थित ईसआईसी अस्पताल पहुंचे और उन्होंने अपनी एड़ी का उपचार कराया।

जीएसटी पंजीकरण मामले में वाराणसी पहले नंबर पर

जीएसटी आयुक्त लल्लन कुमार ने बताया कि देश में 1.35 करोड़ व्यापारी और उद्यमी पंजीकृत हैं। जीएसटी पंजीकरण के मामले में वाराणसी पहले नंबर पर है। जीएसटी आयुक्त के मुताबिक पिछले साल के मुकाबले 45 प्रतिशत अधिक जीएसटी की वसूली हुई है। पिछले साल के मुकाबले 800 करोड़ रुपये की अतिरिक्त वसूली हुई है। संवाद में व्यापारियों, उद्यमियों ने पोर्टल की खामियों को रखा। जीएसटी रिफंड अटकने से पूंजी फंसने की शिकायत की। वहीं ट्रांसपोर्टरों ने ई-वे बिल की खामियों को उठाया और सीजीएसटी व वाणिज्य कर अधिकारियों द्वारा जांच पर नाम पर उत्पीड़न की शिकायत की। सीबीआईसी बोर्ड के सदस्य राजीव तलवार ने कहा कि सभी शिकायतों, सुझावों को नोट किया गया है। बोर्ड के समक्ष इसे रखा जाएगा। इस दौरान चीफ कमिश्नर सीजीएसटी एस. कन्नन, चीफ कमिश्नर कस्टम वीके शुक्ला, सीबीआइसी में पॉलिसी विंग के उपायुक्त अनिल समदरिया, सीजीसीटी कमिश्नर वाराणसी लल्लन कुमार आदि थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *